प्राथमिक कक्षाओं के साझा न्यूनतम कार्यक्रम (सीएमपी):

रिपोर्ट 20.11.16

सीएमपी सांस्कृतिक प्रतियोगिता 2016-2017

सीएमपी प्रतियोगिता सबसे प्रसिद्ध शैक्षणिक घटना है । इसका प्रयास बच्चो  की अंदरूनी प्रतिभा को जगाना  है। केन्द्रीय विद्यालय गंगटोक परिवार द्वारा सीएमपी सांस्कृतिक प्रतियोगिता 2016-2017 की मेजबानी की गई ।

सीएमपी प्रतियोगिता केन्द्रीय विद्यालय गंगटोक में आयोजित हुआ । इसमे  तीन अन्य केन्द्रीय विद्यालयों भी  शामिल हुआ   -के ॰ वी सिंगताम , के॰वी कलिम्पोंग, के॰वी रम्बी । प्राचार्य, दिलबहादुर सिंह ने औपचारिक रूप से सभा का स्वागत किया और कार्यक्रम और उसके नियमों के बारे में जानकारी दी। कई प्रतियोगिता जैसे अंग्रेजी कहानी, अंग्रेजी कविता पाठ, हिंदी कहानी, हिंदी कविता पाठ, समूह नृत्य, समूह गीत आदि कई  प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया है। सभी प्रतियोगिताओं के निर्णायक मंडल के सदस्यों के रूप में श्रीमति डेबजनी रॉय नंदी, श्रीमती सविता कर्ण, श्रीमती अनीता जदरम  और श्रीमती ललित मोहन पंत के बौद्धिक शामिल की एक आकाशगंगा द्वारा न्याय किया गया है। खाने पीने और चिकित्सा सहायता की सभी आवश्यक सुविधाएं विद्यालय द्वारा प्रदान किया गया है। स्टाफ सदस्य में से हर एक अतिथि शिक्षकों और प्रतिभागियों के लिए सभी आवश्यक समर्थन दिया है।

कार्यक्रम काफी प्रेरणादायक है और स्टाफ और छात्रों के लिए प्रेरित किया गया था। छात्रों को एहसास हुआ कि किसी भी काम के लिए सबसे अच्छा है जब व्यक्ति द्वारा खुद किया गया हो ।  यह भी छात्रों श्रम की गरिमा के बारे में पता किया। घटना को सफलतापूर्वक आयोजित किया गया।

 

 

क्र॰ सं

कार्यक्रम

नाम

के॰ वी

स्थिति

1

अंग्रेजी कथा पाठन

1.      रेनू चोधरी

2.      नेहा छेत्री

3.      नेहा गुप्ता

सिंगताम

गंगटोक

रम्बी

प्रथम

दूसरा

तृतीय  

2

अंग्रेजी कविता वाचन

1.      नेहा साहू

2.      अदित्या  गौतम

3.      औरोघ्नी चक्रोबर्ती

कलिमपोंग

गंगटोक

सिंगताम

प्रथम

दूसरा

तृतीय  

3

हिन्दी कथा  पाठन

1.      नीमडीकी शेर्पा  

2.      आजमीना बेगम

3.      आशीष कुमार

गंगटोक

रम्बी

सिंगताम

 

प्रथम

दूसरा

तृतीय  

4

हिन्दी कविता वाचन

1.      देवांश प्रियादर्शिनी

2.      चेतना साहू

3.      राघव पुरोहित

सिंगताम

 

रम्बी

रम्बी

प्रथम

दूसरा

तृतीय  

5

सामूहिक नृत्य

 

गंगटोक

कलिमपोंग

रम्बी

प्रथम

दूसरा

तृतीय  

6

सामूहिक गीत

 

सिंगताम

गंगटोक

रम्बी

प्रथम

दूसरा

तृतीय  

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

                                   

 

 

 

 

                                    प्राचार्य

                                    दिलबहादुर सिंह